IPC 78 In Hindi | IPC Section 78 in Hindi | आईपीसी धारा 78 क्या है

इस पोस्ट मे आपको Indian Penal Code (IPC) की IPC 78 In Hindi मे जानकारी दी गई है। इसमे मैने पूरी तरह से IPC 78 In English की पूरी जानकारी मैने दी है।

क्योंकि इसकी जानकारी हर एक अधिवक्ता व वकील को तो होनी ही चाहिए तथा अगर आप पुलिस मे है या फिर आप विधि से संबंधित छात्र हैं तो भी आपको IPC Section 78 In Hindi के बारे मे जानकारी जरूर होनी चाहिए। जिससे की आप कहीं कभी फसें नहीं और न ही कोई आपको दलीलो मे फंसा सके। तो चलिए जानते है IPC 78 Kya Hai.

Dhara 78 Kya Hai

इस ipcsection.com पोर्टल के माध्यम से यहाँ धारा 78 क्या बताती है ? इसके बारे में पूर्ण रूप से बात होगी और आपको धारा 78 IPC In Hindi के बारे मे सारी जानकारी हो जाएगी। साथ ही यह पोर्टल www.ipcsection.com पर और भी अन्य प्रकार के भारतीय दंड संहिता (IPC) की महत्वपूर्ण धाराओं के बारे में मैने काफी विस्तार से बताया गया है आप उन Posts के माध्यम से अन्य धाराओं यानी section के बारे में भी विस्तार से जानकारी प्राप्त कर सकते हैं।

IPC 78 In Hindi

IPC Dhara 78 – न्यायालय के निर्णय या आदेश के अनुसार किया गया कार्य
ऐसा कुछ भी नहीं जो किसी न्यायालय के निर्णय या आदेश के अनुसरण में किया गया हो या जो न्यायसंगत हो; यदि ऐसा निर्णय या आदेश लागू रहने के दौरान किया जाता है, तो यह एक अपराध है, भले ही न्यायालय के पास ऐसा निर्णय या आदेश पारित करने का कोई अधिकार क्षेत्र न हो, बशर्ते कि सद्भावपूर्वक कार्य करने वाला व्यक्ति यह मानता हो कि न्यायालय का ऐसा अधिकार क्षेत्र था।

IPC Section 78 In English

IPC Section 78 – Act done pursuant to the judgment or order of Court
Nothing which is done in pursuance of, or which is warranted by the judgment or order of, a Court of Justice; if done whilst such judgment or order remains in force, is an offence, notwithstand­ing the Court may have had no jurisdiction to pass such judgment or order, provided the person doing the act in good faith be­lieves that the Court had such jurisdiction.

आईपीसी धारा 78 क्या है

78 IPC मे शब्द न्यायालय के निर्णय या आदेश के अनुसार किया गया कार्यके बारे मे बताया गया है। जिसमे ऐसा कुछ भी नहीं जो किसी न्यायालय के निर्णय या आदेश के अनुसरण में किया गया हो या जो न्यायसंगत हो; यदि ऐसा निर्णय या आदेश लागू रहने के दौरान किया जाता है, तो यह एक अपराध है

अन्य महत्वपूर्ण धाराएं

IPC 71 IN HINDI
IPC 72 IN HINDI
IPC 73 IN HINDI
IPC 74 IN HINDI
IPC 75 IN HINDI
IPC 76 IN HINDI
IPC 77 IN HINDI
IPC 68 IN HINDI
IPC 69 IN HINDI
IPC 70 IN HINDI

तो आपक IPC 78 In Hindi और IPC Section 78 In Hindi की यह जानकारी आपको कैसी लगी नीचे कमेंट करके जरूर बताएं, यहाँ मैने IPC Dhara 78 Kya Hota Hai इसकी पूरी जानकारी दैदी है। बाकी पोस्ट को शेयर जरूर करें।

Leave a Comment