IPC 486 In Hindi | IPC Section 486 in Hindi | आईपीसी धारा 486 क्या है?

इस पोस्ट मे आपको Indian Penal Code (IPC) की IPC 486 In Hindi मे जानकारी दी गई है। इसमे मैने पूरी तरह से IPC 486 In English की पूरी जानकारी मैने दी है।

क्योंकि इसकी जानकारी हर एक अधिवक्ता व वकील को तो होनी ही चाहिए तथा अगर आप पुलिस मे है या फिर आप विधि से संबंधित छात्र हैं तो भी आपको IPC Section 486 In Hindi के बारे मे जानकारी जरूर होनी चाहिए। जिससे की आप कहीं कभी फंसें नहीं और न ही कोई आपको दलीलों में फंसा सके। तो चलिए जानते है IPC Dhara 486 Kya Hai.

Dhara 486 Kya Hai

इस ipcsection.com पोर्टल के माध्यम से यहाँ ipc dhara 486 क्या बताती है? इसके बारे में पूर्ण रूप से बात होगी और आपको धारा 486 के बारे मे सारी जानकारी हो जाएगी। साथ ही यह पोर्टल IPCSECTION.com पर और भी अन्य प्रकार के भारतीय दंड संहिता (IPC) की महत्वपूर्ण धाराओं के बारे में मैंने काफी विस्तार से बताया गया है आप उन Posts के माध्यम से अन्य धाराओं यानी section के बारे में भी विस्तार से जानकारी प्राप्त कर सकते हैं।

IPC 486 In Hindi

486 IPC In Hindi – नकली संपत्ति के निशान से चिह्नित सामान बेचना।
जो कोई भी किसी भी सामान या चीजों को बेचता है, या उजागर करता है, या बिक्री के लिए कब्जे में रखता है, नकली संपत्ति के निशान के साथ चिपकाया जाता है या उस पर या किसी भी मामले, पैकेज या अन्य पात्र पर छापा जाता है जिसमें ऐसे सामान निहित होते हैं, जब तक कि वह साबित करता है
(ए) कि, इस खंड के खिलाफ अपराध करने के खिलाफ सभी उचित सावधानी बरतने के बाद, उसके पास कथित अपराध के समय निशान की वास्तविकता पर संदेह करने का कोई कारण नहीं था, और
(बी) कि, अभियोजक द्वारा या उसकी ओर से की गई मांग पर, उसने उन लोगों के संबंध में अपनी शक्ति में सभी जानकारी दी, जिनसे उसने ऐसा सामान या चीजें प्राप्त कीं, या
(सी) कि अन्यथा, उसने निर्दोषता से कार्य किया था, उसे किसी एक अवधि के लिए कारावास जिसे एक वर्ष तक बढ़ाया जा सकता है, या जुर्माना, या दोनों के साथ दंडित किया जा सकता है।

ipc sections hindi english

IPC Section 486 In English

IPC Section 486 – Selling goods marked with a counterfeit property mark.
Whoever sells, exposes, or has in possession for sale, any goods or things with a counterfeit property mark affixed to or impressed upon the same or to or upon any case, package or other receptacle in which such goods are contained, shall, unless he proves
(a) that, having taken all reasonable precautions against commit­ting an offense against this section, he had at the time of the commission of the alleged offense no reason to suspect the genu­ineness of the mark, and
(b) that, on demand made by or on behalf of the prosecutor, he gave all the information in his power with respect to the persons from whom he obtained such goods or things, or
(c) that otherwise, he had acted innocently, be punished with imprisonment of either description for a term which may extend to one year, or with fine, or with both.

Note – If you have any issue so prefer only English Verison of this IPC section.

IPC 486 Kya Hai?

Other Important Acts

IPC 481 IN HINDI
IPC 482 IN HINDI
IPC 483 IN HINDI
IPC 484 IN HINDI
IPC 485 IN HINDI
IPC 476 IN HINDI
IPC 477 IN HINDI
IPC 478 IN HINDI
IPC 479 IN HINDI
IPC 480 IN HINDI

तो आपक IPC 486 In Hindi और IPC Section 486 की यह जानकारी आपको कैसी लगी नीचे कमेंट करके जरूर बताएं, यहाँ मैने 486 IPC dhara in hindi में इसकी पूरी जानकारी देदी है। बाकी पोस्ट को शेयर जरूर करें।

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *