IPC 412 In Hindi | IPC Section 412 in Hindi | आईपीसी धारा 412 क्या है?

इस पोस्ट मे आपको Indian Penal Code (IPC) की IPC 412 In Hindi मे जानकारी दी गई है। इसमे मैने पूरी तरह से IPC 412 In English की पूरी जानकारी मैने दी है।

क्योंकि इसकी जानकारी हर एक अधिवक्ता व वकील को तो होनी ही चाहिए तथा अगर आप पुलिस मे है या फिर आप विधि से संबंधित छात्र हैं तो भी आपको IPC Section 412 In Hindi के बारे मे जानकारी जरूर होनी चाहिए। जिससे की आप कहीं कभी फंसें नहीं और न ही कोई आपको दलीलों में फंसा सके। तो चलिए जानते है IPC 412 Kya Hai.

Dhara 412 Kya Hai

इस ipcsection.com पोर्टल के माध्यम से यहाँ ipc dhara 412 क्या बताती है? इसके बारे में पूर्ण रूप से बात होगी और आपको धारा 412 के बारे मे सारी जानकारी हो जाएगी। साथ ही यह पोर्टल IPCSECTION.com पर और भी अन्य प्रकार के भारतीय दंड संहिता (IPC) की महत्वपूर्ण धाराओं के बारे में मैंने काफी विस्तार से बताया गया है आप उन Posts के माध्यम से अन्य धाराओं यानी section के बारे में भी विस्तार से जानकारी प्राप्त कर सकते हैं।

IPC 412 In Hindi

412 IPC In Hindi – डकैती में चुराई गई संपत्ति को बेईमानी से प्राप्त करना।
जो कोई किसी चोरी की संपत्ति को बेईमानी से प्राप्त करता है या रखता है, जिसके कब्जे को वह जानता है या विश्वास करने का कारण है कि डकैती कमीशन द्वारा स्थानांतरित किया गया है, या बेईमानी से किसी ऐसे व्यक्ति से प्राप्त करता है, जिसे वह जानता है या विश्वास करने का कारण है या संबंधित है डकैतों के एक गिरोह के लिए, संपत्ति जिसे वह जानता है या चोरी होने का विश्वास करने का कारण है, को आजीवन कारावास, या कठोर कारावास के साथ दंडित किया जाएगा जो दस साल तक बढ़ सकता है, और जुर्माना के लिए भी उत्तरदायी होगा।

ipc sections hindi english

IPC Section 412 In English

IPC Section 412 – Dishonestly receiving property stolen in the commission of a dacoity.
Whoever dishonestly receives or retains any stolen property, the possession whereof he knows or has reason to be­lieve to have been transferred by the commission of dacoity, or dishonestly receives from a person, whom he knows or has reason to believe to belong or to have belonged to a gang of dacoits, property which he knows or has reason to believe to have been stolen, shall be punished with imprisonment for life, or with rigorous imprisonment for a term which may extend to ten years, and shall also be liable to fine.

आईपीसी धारा 412 क्या है?

Other Important Acts

IPC 411 IN HINDI
IPC 402 IN HINDI
IPC 403 IN HINDI
IPC 404 IN HINDI
IPC 405 IN HINDI
IPC 406 IN HINDI
IPC 407 IN HINDI
IPC 408 IN HINDI
IPC 409 IN HINDI
IPC 410 IN HINDI

तो आपक IPC 412 In Hindi और IPC Section 412 की यह जानकारी आपको कैसी लगी नीचे कमेंट करके जरूर बताएं, यहाँ मैने 412 IPC dhara in hindi में इसकी पूरी जानकारी देदी है। बाकी पोस्ट को शेयर जरूर करें।

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *