IPC 39 In Hindi | IPC Section 39 in Hindi | आईपीसी धारा 39 क्या है

इस पोस्ट मे आपको Indian Penal Code (IPC) की IPC 39 In Hindi मे जानकारी दी गई है। इसमे मैने पूरी तरह से IPC 39 In English की पूरी जानकारी मैने दी है।

क्योंकि इसकी जानकारी हर एक अधिवक्ता व वकील को तो होनी ही चाहिए तथा अगर आप पुलिस मे है या फिर आप विधि से संबंधित छात्र हैं तो भी आपको IPC Section 39 In Hindi के बारे मे जानकारी जरूर होनी चाहिए। जिससे की आप कहीं कभी फसें नहीं और न ही कोई आपको दलीलो मे फंसा सके। तो चलिए जानते है IPC 39 Kya Hai.

Dhara 39 Kya Hai

इस ipcsection.com पोर्टल के माध्यम से यहाँ धारा 39 क्या बताती है ? इसके बारे में पूर्ण रूप से बात होगी और आपको धारा 39 IPC In Hindi के बारे मे सारी जानकारी हो जाएगी। साथ ही यह पोर्टल www.ipcsection.com पर और भी अन्य प्रकार के भारतीय दंड संहिता (IPC) की महत्वपूर्ण धाराओं के बारे में मैने काफी विस्तार से बताया गया है आप उन Posts के माध्यम से अन्य धाराओं यानी section के बारे में भी विस्तार से जानकारी प्राप्त कर सकते हैं।

IPC 39 In Hindi

IPC Dhara 39 – “स्वेच्छा से”
एक व्यक्ति को “स्वेच्छा से” प्रभाव पैदा करने के लिए कहा जाता है, जब वह इसका कारण बनता है, जिसके द्वारा वह इसका कारण बनता है, या इसका मतलब है कि, उन साधनों को नियोजित करने के समय, वह जानता था या इसके कारण होने की संभावना होने का विश्वास करने का कारण था . दृष्टांत क, रात के समय, एक बड़े शहर में एक बसे हुए घर में, एक डकैती को सुगम बनाने के उद्देश्य से आग लगाता है और इस प्रकार एक व्यक्ति की मृत्यु का कारण बनता है। यहां, ए का इरादा मौत कारित करने का नहीं हो सकता है; और खेद भी हो सकता है कि मृत्यु उसके कृत्य के कारण हुई है; फिर भी, अगर वह जानता था कि वह मौत का कारण होने की संभावना थी, वह मौत स्वेच्छा कारण बना हुआ है।

IPC Section 39 In English

IPC Section 39 – “Voluntarily”
A person is said to cause an effect “volun­tarily” when he causes it by means whereby he intended to cause it, or by means which, at the time of employing those means, he knew or had reason to believe to be likely to cause it. Illustration A sets fire, by night, to an inhabited house in a large town, for the purpose of facilitating a robbery and thus causes the death of a person. Here, A may not have intended to cause death; and may even be sorry that death has been caused by his act; yet, if he knew that he was likely to cause death, he has caused death voluntarily.

आईपीसी धारा 39 क्या है

39 IPC मे शब्द “स्वेच्छा से”के बारे मे बताया गया है, जिसमे एक व्यक्ति को “स्वेच्छा से” प्रभाव पैदा करने के लिए कहा जाता है, जब वह इसका कारण बनता है, जिसके द्वारा वह इसका कारण बनता है

अन्य महत्वपूर्ण धाराएं

IPC 31 IN HINDI
IPC 32 IN HINDI
IPC 33 IN HINDI
IPC 34 IN HINDI
IPC 35 IN HINDI
IPC 36 IN HINDI
IPC 37 IN HINDI
IPC 38 IN HINDI
IPC 29 IN HINDI
IPC 30 IN HINDI

तो आपक IPC 39 In Hindi और IPC Section 39 In Hindi की यह जानकारी आपको कैसी लगी नीचे कमेंट करके जरूर बताएं, यहाँ मैने IPC Dhara 39 Kya Hota Hai इसकी पूरी जानकारी दैदी है। बाकी पोस्ट को शेयर जरूर करें।

Leave a Comment