IPC 345 In Hindi | IPC Section 345 in Hindi | आईपीसी धारा 345 क्या है?

इस पोस्ट मे आपको Indian Penal Code (IPC) की IPC 345 In Hindi मे जानकारी दी गई है। इसमे मैने पूरी तरह से IPC 345 In English की पूरी जानकारी मैने दी है।

क्योंकि इसकी जानकारी हर एक अधिवक्ता व वकील को तो होनी ही चाहिए तथा अगर आप पुलिस मे है या फिर आप विधि से संबंधित छात्र हैं तो भी आपको IPC Section 345 In Hindi के बारे मे जानकारी जरूर होनी चाहिए। जिससे की आप कहीं कभी फंसें नहीं और न ही कोई आपको दलीलों में फंसा सके। तो चलिए जानते है IPC 345 Kya Hai.

Dhara 345 Kya Hai

इस ipcsection.com पोर्टल के माध्यम से यहाँ ipc dhara 345 क्या बताती है? इसके बारे में पूर्ण रूप से बात होगी और आपको धारा 345 के बारे मे सारी जानकारी हो जाएगी। साथ ही यह पोर्टल IPCSECTION.com पर और भी अन्य प्रकार के भारतीय दंड संहिता (IPC) की महत्वपूर्ण धाराओं के बारे में मैंने काफी विस्तार से बताया गया है आप उन Posts के माध्यम से अन्य धाराओं यानी section के बारे में भी विस्तार से जानकारी प्राप्त कर सकते हैं।

IPC 345 In Hindi

345 IPC In Hindi – जिस व्यक्ति के लिए मुक्ति रिट जारी की गई है, उसका गलत तरीके से कारावास।
जो कोई भी किसी व्यक्ति को गलत कारावास में रखता है, यह जानते हुए कि उस व्यक्ति की मुक्ति के लिए एक रिट विधिवत जारी की गई है, उसे कारावास की किसी भी अवधि के अतिरिक्त दो साल तक के कारावास से दंडित किया जाएगा। इस अध्याय के किसी अन्य खंड के तहत उत्तरदायी हो सकता है।

ipc sections hindi english

IPC Section 345 In English

IPC Section 345 – Wrongful confinement of person for whose liberation writ has been issued.
Whoever keeps any person in wrongful confinement, knowing that a writ for the liberation of that person has been duly issued, shall be punished with imprisonment of either de­scription for a term which may extend to two years in addition to any term of imprisonment to which he may be liable under any other section of this Chapter.

आईपीसी धारा 345 क्या है?

Other Important Acts

IPC 341 IN HINDI
IPC 342 IN HINDI
IPC 343 IN HINDI
IPC 344 IN HINDI
IPC 335 IN HINDI
IPC 336 IN HINDI
IPC 337 IN HINDI
IPC 338 IN HINDI
IPC 339 IN HINDI
IPC 340 IN HINDI

तो आपक IPC 345 In Hindi और IPC Section 345 की यह जानकारी आपको कैसी लगी नीचे कमेंट करके जरूर बताएं, यहाँ मैने 345 IPC dhara in hindi में इसकी पूरी जानकारी देदी है। बाकी पोस्ट को शेयर जरूर करें।

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *