IPC 28 In Hindi | IPC Section 28 in Hindi | आईपीसी धारा 28 क्या है

इस पोस्ट मे आपको Indian Penal Code (IPC) की IPC 28 In Hindi मे जानकारी दी गई है। इसमे मैने पूरी तरह से IPC 28 In English की पूरी जानकारी मैने दी है।

क्योंकि इसकी जानकारी हर एक अधिवक्ता व वकील को तो होनी ही चाहिए तथा अगर आप पुलिस मे है या फिर आप विधि से संबंधित छात्र हैं तो भी आपको IPC Section 28 In Hindi के बारे मे जानकारी जरूर होनी चाहिए। जिससे की आप कहीं कभी फसें नहीं और न ही कोई आपको दलीलो मे फंसा सके। तो चलिए जानते है IPC 28 Kya Hai.

Dhara 28 Kya Hai

इस ipcsection.com पोर्टल के माध्यम से यहाँ धारा 28 क्या बताती है ? इसके बारे में पूर्ण रूप से बात होगी और आपको धारा 28 IPC In Hindi के बारे मे सारी जानकारी हो जाएगी। साथ ही यह पोर्टल www.ipcsection.com पर और भी अन्य प्रकार के भारतीय दंड संहिता (IPC) की महत्वपूर्ण धाराओं के बारे में मैने काफी विस्तार से बताया गया है आप उन Posts के माध्यम से अन्य धाराओं यानी section के बारे में भी विस्तार से जानकारी प्राप्त कर सकते हैं।

IPC 28 In Hindi

IPC Dhara 28 – “नकली”
एक व्यक्ति को “नकली” कहा जाता है, जो एक चीज़ को दूसरी चीज़ से मिलता-जुलता बनाता है, उस समानता के माध्यम से धोखे का अभ्यास करने का इरादा रखता है, या यह जानता है कि इस तरह से धोखे का अभ्यास किया जाएगा।
स्पष्टीकरण 1— नकली करने के लिए यह आवश्यक नहीं है कि नकल सटीक हो।
स्पष्टीकरण 2— जब कोई व्यक्ति एक वस्तु को दूसरी वस्तु के सदृश बनाता है, और समानता ऐसी है कि उसके द्वारा किसी व्यक्ति को धोखा दिया जा सकता है, तब तक यह माना जाएगा, जब तक कि इसके विपरीत साबित नहीं हो जाता है, कि वह व्यक्ति इस तरह से एक चीज के समान होने का कारण बनता है। उस समानता के माध्यम से धोखे का अभ्यास करने का इरादा है या यह जानता था कि इस तरह से धोखे का अभ्यास किया जाएगा।

IPC Section 28 In English

IPC Section 28 – “Counterfeit”
A person is said to “counterfeit” who causes one thing to resemble another thing, intending by means of that resemblance to practise deception, or knowing it to be likely that deception will thereby be practised.
Explanation 1— It is not essential to counterfeiting that the imitation should be exact.
Explanation 2— When a person causes one thing to resemble anoth­er thing, and the resemblance is such that a person might be deceived thereby, it shall be presumed, until the contrary is proved, that the person so causing the one thing to resemble the other thing intended by means of that resemblance to practise deception or knew it to be likely that deception would thereby be practised.

आईपीसी धारा 28 क्या है

इसमे (28 IPC) शब्द “नकली” के बारे मे बताया गया है बाकी इसमे एक व्यक्ति को “नकली” कहा जाता है, जो एक चीज़ को दूसरी चीज़ से मिलता-जुलता बनाता है, उस समानता के माध्यम से धोखे का अभ्यास करने का इरादा रखता है।

अन्य महत्वपूर्ण धाराएं

IPC 21 IN HINDI
IPC 22 IN HINDI
IPC 23 IN HINDI
IPC 24 IN HINDI
IPC 25 IN HINDI
IPC 26 IN HINDI
IPC 27 IN HINDI
IPC 19 IN HINDI
IPC 9 IN HINDI
IPC 10 IN HINDI

तो आपक IPC 28 In Hindi और IPC Section 28 In Hindi की यह जानकारी आपको कैसी लगी नीचे कमेंट करके जरूर बताएं, यहाँ मैने IPC Dhara 28 Kya Hota Hai इसकी पूरी जानकारी दैदी है। बाकी पोस्ट को शेयर जरूर करें।

Leave a Comment