|

IPC 250 In Hindi | IPC Section 250 in Hindi | आईपीसी धारा 250 क्या है?

इस पोस्ट मे आपको Indian Penal Code (IPC) की IPC 250 In Hindi मे जानकारी दी गई है। इसमे मैने पूरी तरह से IPC 250 In English की पूरी जानकारी मैने दी है।

क्योंकि इसकी जानकारी हर एक अधिवक्ता व वकील को तो होनी ही चाहिए तथा अगर आप पुलिस मे है या फिर आप विधि से संबंधित छात्र हैं तो भी आपको IPC Section 250 In Hindi के बारे मे जानकारी जरूर होनी चाहिए। जिससे की आप कहीं कभी फंसें नहीं और न ही कोई आपको दलीलों में फंसा सके। तो चलिए जानते है IPC 250 Kya Hai.

Dhara 250 Kya Hai

इस ipcsection.com पोर्टल के माध्यम से यहाँ ipc dhara 250 क्या बताती है? इसके बारे में पूर्ण रूप से बात होगी और आपको धारा 250 के बारे मे सारी जानकारी हो जाएगी। साथ ही यह पोर्टल IPCSECTION.com पर और भी अन्य प्रकार के भारतीय दंड संहिता (IPC) की महत्वपूर्ण धाराओं के बारे में मैंने काफी विस्तार से बताया गया है आप उन Posts के माध्यम से अन्य धाराओं यानी section के बारे में भी विस्तार से जानकारी प्राप्त कर सकते हैं।

IPC 250 In Hindi

250 IPC In Hindi – सिक्के की सुपुर्दगी, जिसके कब्जे में यह ज्ञान हो कि उसे बदला गया है।
जिसके पास वह सिक्का है जिसके संबंध में धारा 246 या 248 में परिभाषित अपराध किया गया है, और उस समय जब वह ऐसे सिक्के के कब्जे में आया था, यह जानते हुए कि इस तरह का अपराध उसके संबंध में धोखाधड़ी से या धोखाधड़ी से किया गया था इस इरादे से कि धोखाधड़ी की जा सकती है, किसी अन्य व्यक्ति को ऐसे सिक्के वितरित करता है, या किसी अन्य व्यक्ति को इसे प्राप्त करने के लिए प्रेरित करने का प्रयास करता है, दोनों में से किसी भी विवरण के कारावास से दंडित किया जाएगा, जो पांच साल तक का हो सकता है, और भी उत्तरदायी होगा सही करने के लिए।

ipc sections hindi english

IPC Section 250 In English

IPC Section 250 – Delivery of coin, possessed with knowledge that it is al­tered.
Whoever, having coin in his possession with respect to which the offence defined in section 246 or 248 has been commit­ted, and having known at the time when he became possessed of such coin that such offence had been committed with respect to it, fraudulently or with intent that fraud may be committed, delivers such coin to any other person, or attempts to induce any other person to receive the same, shall be punished with impris­onment of either description for a term which may extend to five years, and shall also be liable to fine.

आईपीसी धारा 250 क्या है?

अन्य महत्वपूर्ण धाराएं

IPC 241 IN HINDI
IPC 242 IN HINDI
IPC 243 IN HINDI
IPC 244 IN HINDI
IPC 245 IN HINDI
IPC 246 IN HINDI
IPC 247 IN HINDI
IPC 248 IN HINDI
IPC 249 IN HINDI
IPC 240 IN HINDI

तो आपक IPC 250 In Hindi और IPC Section 250 की यह जानकारी आपको कैसी लगी नीचे कमेंट करके जरूर बताएं, यहाँ मैने 250 IPC dhara in hindi में इसकी पूरी जानकारी देदी है। बाकी पोस्ट को शेयर जरूर करें।

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *