|

IPC 203 In Hindi | IPC Section 203 in Hindi | आईपीसी धारा 203 क्या है?

इस पोस्ट मे आपको Indian Penal Code (IPC) की IPC 203 In Hindi मे जानकारी दी गई है। इसमे मैने पूरी तरह से IPC 203 In English की पूरी जानकारी मैने दी है।

क्योंकि इसकी जानकारी हर एक अधिवक्ता व वकील को तो होनी ही चाहिए तथा अगर आप पुलिस मे है या फिर आप विधि से संबंधित छात्र हैं तो भी आपको IPC Section 203 In Hindi के बारे मे जानकारी जरूर होनी चाहिए। जिससे की आप कहीं कभी फंसें नहीं और न ही कोई आपको दलीलों में फंसा सके। तो चलिए जानते है IPC 203 Kya Hai.

Dhara 203 Kya Hai

इस ipcsection.com पोर्टल के माध्यम से यहाँ ipc dhrara 203 क्या बताती है ? इसके बारे में पूर्ण रूप से बात होगी और आपको धारा 203 के बारे मे सारी जानकारी हो जाएगी। साथ ही यह पोर्टल IPCSECTION.com पर और भी अन्य प्रकार के भारतीय दंड संहिता (IPC) की महत्वपूर्ण धाराओं के बारे में मैंने काफी विस्तार से बताया गया है आप उन Posts के माध्यम से अन्य धाराओं यानी section के बारे में भी विस्तार से जानकारी प्राप्त कर सकते हैं।

IPC 203 In Hindi

203 IPC In Hindi – किए गए अपराध के संबंध में झूठी सूचना देना।
जो कोई यह जानकर या विश्वास करने का कारण रखता है कि कोई अपराध किया गया है, उस अपराध के बारे में कोई जानकारी देता है जिसे वह जानता है या झूठा मानता है, उसे किसी एक अवधि के लिए कारावास, जिसे दो वर्ष तक बढ़ाया जा सकता है, या जुर्माने से दंडित किया जाएगा। , या दोनों के साथ।

ipc dhara in hindi
ipc section

IPC Section 203 In English

IPC Section 203 – Giving false information respecting an offence committed.
Whoever knowing or having reason to believe that an offence has been committed, gives any information respecting that offence which he knows or believes to be false, shall be punished with imprisonment of either description for a term which may extend to two years, or with fine, or with both.

आईपीसी धारा 203 क्या है?

अन्य महत्वपूर्ण धाराएं

IPC 201 IN HINDI
IPC 202 IN HINDI
IPC 193 IN HINDI
IPC 194 IN HINDI
IPC 195 IN HINDI
IPC 196 IN HINDI
IPC 197 IN HINDI
IPC 198 IN HINDI
IPC 199 IN HINDI
IPC 200 IN HINDI

तो आपक IPC 203 In Hindi और IPC Section 203 की यह जानकारी आपको कैसी लगी नीचे कमेंट करके जरूर बताएं, यहाँ मैने 203 IPC dhara in hindi में इसकी पूरी जानकारी देदी है। बाकी पोस्ट को शेयर जरूर करें।

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *