IPC 171E In Hindi | IPC Section 171E in Hindi | आईपीसी धारा 171E क्या है

इस पोस्ट मे आपको Indian Penal Code (IPC) की IPC 171E In Hindi मे जानकारी दी गई है। इसमे मैने पूरी तरह से IPC 171E In English की पूरी जानकारी मैने दी है।

क्योंकि इसकी जानकारी हर एक अधिवक्ता व वकील को तो होनी ही चाहिए तथा अगर आप पुलिस मे है या फिर आप विधि से संबंधित छात्र हैं तो भी आपको IPC Section 171E In Hindi के बारे मे जानकारी जरूर होनी चाहिए। जिससे की आप कहीं कभी फसें नहीं और न ही कोई आपको दलीलो मे फंसा सके। तो चलिए जानते है IPC 171E Kya Hai.

Dhara 171E Kya Hai

इस ipcsection.com पोर्टल के माध्यम से यहाँ धारा 171E क्या बताती है ? इसके बारे में पूर्ण रूप से बात होगी और आपको धारा 171E IPC In Hindi के बारे मे सारी जानकारी हो जाएगी। साथ ही यह पोर्टल www.ipcsection.com पर और भी अन्य प्रकार के भारतीय दंड संहिता (IPC) की महत्वपूर्ण धाराओं के बारे में मैने काफी विस्तार से बताया गया है आप उन Posts के माध्यम से अन्य धाराओं यानी section के बारे में भी विस्तार से जानकारी प्राप्त कर सकते हैं।

IPC 171E In Hindi

IPC Dhara 171e – रिश्वतखोरी के लिए सजा।
जो कोई रिश्वतखोरी का अपराध करता है, उसे किसी एक अवधि के लिए कारावास, जिसे एक वर्ष तक बढ़ाया जा सकता है, या जुर्माने से, या दोनों से दंडित किया जाएगा: बशर्ते कि रिश्वतखोरी को केवल जुर्माने से दंडित किया जाएगा।
स्पष्टीकरण – “उपचार” का अर्थ है रिश्वत का वह रूप जहां परितोषण में भोजन, पेय, मनोरंजन या प्रावधान शामिल है।

IPC SECTION 171E IN HINDI ENGLISH

IPC Section 171E In English

IPC Section 171E – Punishment for bribery.
Whoever commits the offence of bribery shall be punished with imprisonment of either description for a term which may extend to one year, or with fine, or with both: Provided that bribery by treating shall be punished with fine only.
Explanation — “Treating” means that form of bribery where the gratification consists in food, drink, entertainment, or provi­sion.

आईपीसी धारा 171E क्या है

171E IPC मे रिश्वतखोरी के लिए सजाके बारे मे बताया गया है। जिसमे जो कोई रिश्वतखोरी का अपराध करता है, उसे किसी एक अवधि के लिए कारावास, जिसे एक वर्ष तक बढ़ाया जा सकता है, या जुर्माने से, या दोनों से दंडित किया जाएगा: बशर्ते कि रिश्वतखोरी को केवल जुर्माने से दंडित किया जाएगा।

अन्य महत्वपूर्ण धाराएं

IPC 171 IN HINDI
IPC 171A IN HINDI
IPC 171B IN HINDI
IPC 171C IN HINDI
IPC 171D IN HINDI
IPC 166 IN HINDI
IPC 167 IN HINDI
IPC 168 IN HINDI
IPC 169 IN HINDI
IPC 170 IN HINDI

तो आपक IPC 171E In Hindi और IPC Section 171E In Hindi की यह जानकारी आपको कैसी लगी नीचे कमेंट करके जरूर बताएं, यहाँ मैने IPC Dhara 171E Kya Hota Hai इसकी पूरी जानकारी देदी है। बाकी पोस्ट को शेयर जरूर करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *