IPC 132 In Hindi | IPC Section 132 in Hindi | आईपीसी धारा 132 क्या है

इस पोस्ट मे आपको Indian Penal Code (IPC) की IPC 132 In Hindi मे जानकारी दी गई है। इसमे मैने पूरी तरह से IPC 132 In English की पूरी जानकारी मैने दी है।

क्योंकि इसकी जानकारी हर एक अधिवक्ता व वकील को तो होनी ही चाहिए तथा अगर आप पुलिस मे है या फिर आप विधि से संबंधित छात्र हैं तो भी आपको IPC Section 132 In Hindi के बारे मे जानकारी जरूर होनी चाहिए। जिससे की आप कहीं कभी फसें नहीं और न ही कोई आपको दलीलो मे फंसा सके। तो चलिए जानते है IPC 132 Kya Hai.

Dhara 132 Kya Hai

इस ipcsection.com पोर्टल के माध्यम से यहाँ धारा 132 क्या बताती है ? इसके बारे में पूर्ण रूप से बात होगी और आपको धारा 132 IPC In Hindi के बारे मे सारी जानकारी हो जाएगी। साथ ही यह पोर्टल www.ipcsection.com पर और भी अन्य प्रकार के भारतीय दंड संहिता (IPC) की महत्वपूर्ण धाराओं के बारे में मैने काफी विस्तार से बताया गया है आप उन Posts के माध्यम से अन्य धाराओं यानी section के बारे में भी विस्तार से जानकारी प्राप्त कर सकते हैं।

IPC 132 In Hindi

IPC Dhara 132 – विद्रोह का दुष्प्रेरण, यदि उसके परिणाम में विद्रोह किया जाता है।
जो कोई एक अधिकारी, सैनिक, नाविक या वायुसैनिक सेना में, नौसेना या वायु सेना भारत सरकार द्वारा विद्रोह करने के लिए उकसाता है, अगर उस उकसावे के परिणामस्वरूप विद्रोह किया जाएगा, मौत से दंडित किया जाएगा या आजीवन कारावास, या किसी एक अवधि के लिए कारावास जिसे दस साल तक बढ़ाया जा सकता है, और जुर्माने के लिए भी उत्तरदायी होगा।

IPC Section 132 In English

IPC Section 132 – Abetment of mutiny, if mutiny is committed in consequence thereof.
Whoever abets the committing of mutiny by an officer, soldier, sailor or airman in the Army, Navy or Air Force of the Government of India, shall, if mutiny be committed in consequence of that abetment, be punished with death or with imprisonment for life, or imprisonment of either description for a term which may extend to ten years, and shall also be liable to fine.

आईपीसी धारा 132 क्या है

132 IPC मे शब्द विद्रोह का दुष्प्रेरण, यदि उसके परिणाम में विद्रोह किया जाता हैके बारे मे बताया गया है। जिसमे जो कोई एक अधिकारी, सैनिक, नाविक या वायुसैनिक सेना में, नौसेना या वायु सेना भारत सरकार द्वारा विद्रोह करने के लिए उकसाता है, अगर उस उकसावे के परिणामस्वरूप विद्रोह किया जाएगा, मौत से दंडित किया जाएगा या आजीवन कारावास, या किसी एक अवधि के लिए कारावास जिसे दस साल तक बढ़ाया जा सकता है

अन्य महत्वपूर्ण धाराएं

IPC 131 IN HINDI
IPC 122 IN HINDI
IPC 123 IN HINDI
IPC 124 IN HINDI
IPC 125 IN HINDI
IPC 126 IN HINDI
IPC 127 IN HINDI
IPC 128 IN HINDI
IPC 129 IN HINDI
IPC 130 IN HINDI

तो आपक IPC 132 In Hindi और IPC Section 132 In Hindi की यह जानकारी आपको कैसी लगी नीचे कमेंट करके जरूर बताएं, यहाँ मैने IPC Dhara 132 Kya Hota Hai इसकी पूरी जानकारी देदी है। बाकी पोस्ट को शेयर जरूर करें।

Leave a Comment